UPBIL04881

उत्तर प्रदेश राज्य की राजधानी में सरकारी सुविधाओं से वंचित :एक चर्चा



अमित आंबेडकर जन समस्याओ की परिचर्चा के दौरान सिकंदरपुर लखनऊ में  
लखनऊ के सरोजिनीनगर ब्लाक के ग्राम सिकंदरपुर में महिलाओं के साथ उनसे जुड़े मुद्दे पर चर्चा हुआ जिसमें महिलाओं ने अपना कडुवा अनुभव साझा किया। 
महिलाओं ने बताया कि उनके साथ कोई घटना होने पर उनकी कहीं भी सुनवाई नही होती। उनको किसी भी सरकारी योजनाओं का लाभ नही मिलता। उन्हें मनरेगा के तहत गांव में काम नहीं मिलता जिसके कारण वह लोग शहर में काम करने जाती है। 
चर्चा में महिलाओं ने ये भी बताया कि उनके गांव से सरकारी अस्पताल काफी दूर है और वहाँ जाने पर इलाज तो होता नही बल्कि दवा बाहर से लिख देते है। 
राजधानी में होने के बाद भी उनके बच्चे शिक्षा से वंचित है उनके बच्चों का स्कूल में दाखिला नही किया जाता और उनके यहाँ कोई भी आगनवाड़ी केन्द्र नही है। 
चर्चा में शामिल महिलाओं को ह्यूमन राईट मानिटरिंग कमेटी ने उन्हें आस्वस्त किया कि अब उनके बच्चों को बंथरा में चल रहे ह्यूमन राईट इजुकेशन सेन्टर मुफ्त में शिक्षा के साथ उनके परिवार को मुफ्त मे कानूनी मदद और सरकारी योजनाओं का लाभ दिलवाने में मदद करेगा। 
चर्चा में शामिल अमलतास संस्था के अजय शर्मा ने महिलाओं का स्वास्थ्य परिक्षण कराने के लिए कैम्प लगवाने की बात कही है जिससे वह स्वस्थ जीवन गुजार सकें।

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »