UPBIL/2018/70352

भीषण गर्मी में पेयजल आपूर्ति ठप ;लखनऊ त्रिवेणी नगर के लोग परेशान

सूर्यान्श शुक्ला 
लखनऊ उत्तर प्रदेश की राजधानी है किन्तु यहां पर विकास के लिए  कहां से वोट मिला है कहां से नही इस बात पर पार्षद घ्यान देता है। नीरज बोरा लखनऊ उत्तरी के विधायक हैं   मुन्ना मिश्रा की पत्नी श्रीमती अनुराधा  त्रिवेणी नगर क्षेत्र की पार्सद  हैं। यह क्षेत्र सीतापुर रोड के दोनो किनारे पर बसा हुआ है। सीतापुर रोड के पूर्वी किनारे पर त्रिवेणी नगर द्वितीय एवं पश्चिमी किनारे पर त्रिवेणी नगर तृतीय कालोनी बसी हुई है।  बलेन्दु धर त्रिपाठी बताते है कि इलाके मे ट्यूबवेल त्रिवेणी नगर तृतीय  मे स्थापित है। जिसका तल द्वितीय कालोनी से काफी नीचे है और पानी सप्लाई खोले जाने पर तल नीचे होने के करण पेयजल मात्र 10 मिनट सुबह एवं 10 मिनट शाम को मिल पाता है।
 कालोनी के विकास के संबंध मे पूछे जाने पर (नाम न खोले जाने की शर्त पर) एक व्यक्ति ने बताया की मुन्ना मिश्रा वर्तमान पार्षद के पति कालोनी वासियो से नाराज हैं इसलिये इधर की कालोनी के  विकास कार्य को  उपेक्षित किया  गया  है। कुछ कार्य यहां पर कराया गया था किन्तु पार्षद के कार्य का शिलालेख किसी ने रा़त्रि  के समय तोड दिया वोह तभी से नाराज हैं एवं इस संबंध मे कई बार कालोनी वासी उनसे मिल चुके हैं। स्ट्रीट लाईट उनके द्वारा लगवाई गयी हैं
यहां यह बताते चलें कि पेयजल पाईप जब डाला जा रहा था मार्ग मे पाईप लाईन कुछ लोगो की मिलीभगत से कुछ ही दूरी तक डाली गई। जब प्रेसमैन के कार्यालय का निर्माण कार्य प्रारम्भ हुआ तो कनेक्शन 30 मीटर मार्ग खोदकर कराया  गया। एक मिनी ट्यूबवेल अधिष्ठापन हेतु लखनऊ के मेयर दिनेश शर्मा से लोग  मिले तो उन्होने यह व्यवस्था अगले वित्त कराने हेतु  आदेश कर दिया किन्तु अभीतक जल संस्थान जोन-3  ने इस दिशा मे कोई कार्य नही किया।
 अभीतक त्रिवेणी नगर के योगी नगर  मंदिर के पास का ट्यूबवेल पिछले 15 दिनों से खराब है। पानी की बूंद की भी आपूर्ति बंद है। इस भीषण गर्मी मे बिना पेयजल लोगों का कैसे गुजारा हो रहा है एक विचारणीय विषय है किन्तु जनसमस्याओं पर विचार भी वतानुकूलित वातावरण मे होता है इसलिये इस समस्या पर अभीतक कोई  ठोस निर्णय नही हो सका। महाप्रबंधक जल संस्थान को दूरभाष पर प्रयास किया गया तो उनका अधिकारिक मोबाईल उनके स्टाफ द्वारा उठाया गया और पूछे जाने पर उनके व्यक्तिगत नम्बर की जानकारी से अनभिज्ञता जाहिर की गई। 

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »