UPBIL/2018/70352

श्रीनगर लोकसभा सीट पर उपचुनाव ड्यूटी से लौट रहे सीआरपीएफ जवानों के साथ हुई बदसलूकी पर जवानों का रुख सामने आया

श्रीनगरः (कश्मीर) हाल ही में श्रीनगर लोकसभा सीट पर उपचुनाव के बाद ड्यूटी से लौट रहे सीआरपीएफ जवानों के साथ हुई बदसलूकी के मामले में पहली बार इन जवानों का रुख सामने आया. इन जवानों ने उस दौरान अपने साथ हुए अभद्र व्यंवहार को लेकर कहा कि जब हम लोग बूथ से निकल रहे थे, तो उस दौरान उनपर पथराव किया गया... हाथापाई की गई. एनडीटीवी से बातचीत में इन जवानों ने कहा कि जब वे ड्यूटी से वापस लौट रहे थे तो भीड़ ने उनके साथ हाथापाई की और वे नारे लगा रहे थे. उस भीड़ के पास कोई हथियार नहीं थे. जवानों ने कहा कि उस भीड़ में बच्चे, बूढ़े और महिलाएं भी थीं, इसलिए हमने बल प्रयोग करना वाजिब नहीं समझा. हम अपने को बचाते आगे निकल गए. वो भी हमारे भाई हैं’. उन्होंनि यह भी कहा कि उनके ऐसे व्ययवहार पर थोड़ा गुस्सा आया, लेकिन हमने हथियार का प्रयोग नहीं किया. वो भी हमारे भाई हैं... बहक गए हैं, हमें जो ट्रेनिंग दी गई है हमने उसका ध्यान रखा. आम नागरिकों पर बल प्रयोग करना ठीक नहीं समझा. दरअसल, उपचुनाव के वक्त  सीआरपीएफ जवानों के साथ हुई इस बदसलूकी का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसको लेकर सोशल मीडिया पर लोगों की नाराज़गी खुलकर सामने आई थी. श्रीनगर लोकसभा सीट पर उपचुनाव के समय की इन तस्वीरों में सीआरपीएफ जवानों को पैरों से मारा गया और उनका हेलमेट फेंका गया. इन सबके बीच जवानों ने अपना संयम नहीं खोया और वे चुपचाप चलते रहे. उपद्रवियों और पत्थरबाजों का सामना हमारे सुरक्षाबल किस संयम के साथ करते हैं उसकी एक बानगी इस वीडियो में दिखाई दी थी.   

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »