UPBIL/2018/70352

बाराबंकी में कौशल विकास प्रशिक्षण के सात दिवसीय शिविर का आयोजन

ब्यूरोचीफ; बाराबंकी
ckjkcadh% f'k{k.k çf'k{k.k ls thou&dkS'ky çkIr gksrs gSaA blhfy, vui<+ vkSj i<+h fy[kh efgyk ds thou esa cgqr vUrj jgrk gSA mä fopkj M‚ vEcjh"k vEcj fçafliy jktdh; gkbZLdwy jlwyiqj] tgkaxhjkckn] ckjkcadh us usg: ;qok dsUæ }kjk eathBk esa lapkfyr thou dkS'ky f'k{kk çf'k{k.k esa O;ä fd,A
M‚ vEcj us ;g Hkh dgk fd ru vkSj eu nksuksa dh LoPNrk o LokLF; çR;sd ukxfjd dh [kqn dh ftEesnkjh gSA 40 fd'kksfj;ksa ds lkr fnolh; çf'k{k.k f'kfoj esa laØe.k vkSj ehfM;k fo"k; ij i=dkj eks- vrgj us O;k[;ku çLrqr djrs gq, dgk fd tkx:d ikBd dks ehfM;k@v[kckj ds ek/;e ls vusd thou dkS'ky çkIr gksrs gSaA
jk"Vªh; ;qok Lo;a lsod usgk ekS;Z us fd'kksfj;ksa dks pkj lewg esa foHkä dj ppkZ djkbZ vkSj muds thou dh leL;kvksa dk fpUgkadu djk;kA
çf'k{k.k esa jsMØkl lfpo çnhi lkjax us iapra= dh dgkfu;ksa ds }kjk f'k{kk çnku dhA tkxks jh tkxks ds laLFkkid paæ çdk'k oekZ] f'kf{kdk oUnuk oekZ us Hkh fopkj j[ksA


विक्रय विलेख के बिना उपभोक्ता सहकारी भंडार लिमिटेड की जगह खाली करने का नगर पालिका की चेयरमैन ने दिया नोटिस

euekuh djus dk v/;{kk ij vkjksi
/khjsUnz dqekj oek
ब्यूरोचीफ; बाराबंकी  
ckjkcadh% nks fnu iwoZ miHkksDrk lgdkjh Hk.Mkj fy- ij dh x;h dk;Zokgh ij miz jkT; lgdkjh cSad fy- ds iwoZ ps;jeSu ,oa LFkkuh; ftyk lgdkjh cSad fy-] ckjkcadh ds ps;jeSu /khjsUnz dqekj oekZ us dgk gS fd uxj ikfydk ifj’kn uokcxat dh v/;{kk Jherh “kf”k JhokLro }kjk Fkksd dsUnzh; miHkksDrk lgdkjh Hk.Mkj fy- dks uksfVl nsdj dk;kZy; [kkyh djk;s tkus dk c;ku ,oa uxj ikfydk }kjk Hk.Mkj dh Hkwfe ij csotg n[ky fpUrktud gSA
mUgksuas dgk fd ,d yksdrkfU=d laLFkk ds v/;{k in ij inklhu O;fDr }kjk lgdkjh {ks= dh ftykLrjh; yksdrkfU=d laLFkk dks csn[ky djus dh lksp vPNh ugha dgh tk;sxhA mUgksus dgk fd miHkksDrk Hk.Mkj lu~ 1966 ls mDr LFkku ij dkfct nkf[ky o vkt Hkh dk;Zjr gSA 
ogha uxj ikfydk ek= dqN /kujkf”k vfxze nsdj fcuk oS/kkfud ys[k&foys[k ds gh vius ekfydkuk gd dk nkok dj jgh gS] ;g gkL;kin gSA      /khjsUnz us ftykf/kdkjh dks ,d i= izsf"kr dj bl izdj.k esa ;Fkksfpr gLr{ksi djus dh ekax dh gSA lkFk gh mUgksusa dgk fd Fkksd dsUnzh; miHkksDrk lgdkjh Hk.Mkj dks csn[ky djus dh fdlh Hkh dksf”k”k dk iwjs ftys ds lgdkjh cU/kq iqjtksj fojks/k djsaxsaA

  

दुनिया और अमेरिकी अब अल-बगदादी के आतंकी चंगुल से मुक्त



इस्लामिक स्टेट के खिलाफ जारी अभियान में आतंकवाद के खिलाफ छः हजार मिल दूर अमेरिकी सेना के जवानो ने आतंक के बादशाह अलबगदादी को मार गिराया।
रविवार की शाम अंधेरे में हजारों मिल दूर के लिए, विभिन्न देशो के अधिकृत हवाईक्षेत्र से गुजरती है, इराक के एक स्थान से आठ हेलीकाफ्टर अमेरिकी सेना को लेकर उड़ान भरी।
उनका निशाना था अबुबकर अल-बगदादी, इस्लामिक स्टेट की स्थापना करने वाला कुख्यात नेता, जो अपने आतंकी सहयोगियों और परिवार के साथ नार्थ-वेस्ट सीरिया के एक गांव में छुपा हुआ था और अमेरिकी उसे कई दिनों से ढूंढ रहे थे।
इसके छुपे होने की सूचना ऐसे लड़ाको द्वारा दी गई जो इस्लामिक स्टेट से प्रभावित नहीं थे जिन्होंने इस अभियान को गति दी एवं सशर्त बतचीत किया कि उनके नाम का खुलासा  किया जाए।
बन्द मार्ग वाली सुरंग में आगे बढती हुई अमेरिकी सेना से बचने के लिए बगदादी ने कमर में बंधे हुए विस्फोटक को उड़ा दिया जिससे उसकी और उसके तीन बच्चों की मृत्यु हो गई.  
आई़़एस आईएस सदस्यों से अप्रभावित लड़ाको ने कुर्दिष लड़ाकुओं को इससे संबंधित सूचना दी थी जो अमेरिकी सेना के साथ लड़ रहे थे। उन्हीं लोगों ने अलबगदादी के छुपे होने की यह महत्वपूर्ण सूचना अमेरिका को दी थी।
अधिकारियों के अनुसार मुखबर गर्मी के दिनों में सामने आया और अमेरिकी अधिकारी इस सूचना की सत्यता की जांच मे जुट गये। पिछले दो सप्ताह में यह साफ हो गया था कि दी गई सूचना बगदादी के छुपे होने के स्थान में सही थी
यह छोटी छोटी जानकारी को एकत्र क्रमचय करके प्राप्त हुई सामग्री थी जो बहुत सहायक सिद्ध हुई। अमेरिका के राष्ट्रपति  डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि 5 बजे शाम यह हमला शुरू किया गया और वह सारे अभियान को पूरी तरह से एक मूवी की तरह वाशिगटन में बैठे देख रहे थे।
मध्यरात्रि के बाद मध्यपूर्व में उड़ने के लिए हेलीकाफ्टर को इराक तुर्की और रूस के हवाईक्षेत्र से गुजरना था और इस बात की जानकारीबिनाअभियान की सूचना आदानप्रदान किये, इन तीनों देशो को दे दी थी।
रूस को सीरिया में, पेंटागन ने "deconfliction" किसी दुर्घटना के मद्देनजर पहले ही घोषित कर दिया था।
अमेरीकी सेना बगदादी के ठिकाने पर पहुँचते ही उसने बगदादी को आत्मसर्मपण के लिये कहा लेकिन दो जोड़े बड़े एवं 11 बच्चे बाहर गये।
बगदादी अंदर रहा जैसा कि यू एस अधिकारियों ने माना था कि वह करेगा। अमेरिकी सेना ने जवाब में दिवार के किनारे प्रवेश हेतु एक बड़ा होल विस्फोटक से पंचर कर दिया ताकि दरवाजे पर खड़े लोगों  का सामना करना पड़े। हमले में 5 लड़ाके मारे गये और बाकी बाहर ही मार दिये गये थे।
दो पत्नियों के शव शेष वहीं रह गये, राष्ट्रपति ट्रंप के अनुसार इन दोनों ने अपनी कमर में बंधे विस्फोटक को नहीं उड़ाया जो उनकी कमर पर अभी भी था जिस कारण उन औरतों के शवों को ठिकाने लगाना अमेरिकी सेना के लिए खतरनाक था।
अल्लेपों के पष्चिम के गाँव में कितने समय तक बगदादी रूकता यह स्पष्ट नहीं था। बगदादी के वर्तमान रूकने के ठिकाने का पता अभी इसी सप्ताह में पता चला था।