UPBIL04881

पुराने लखनऊ में भीषण जल समस्या से ग्रसित लोग;जल निगम अधिकारियों का लोगों को सिर्फ आश्वासन


ताजदार अब्बास; लखनऊ  
लखनऊ पश्चिमी विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत आने वाले पुराने लखनऊ के दर्जनों मुहल्लों में लगभग एक माह से चल रही भीषण जल समस्या को लेकर आज अल्पसंख्यक विभाग के शहर अध्यक्ष एवं अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य मेंहदी हसनबब्लूके नेतृत्व में जल निगम के अधिकारियों का घेराव कर जल समस्या को तुरन्त दूर किये जाने की मांग की गयी।  
यह जानकारी देते हुए मेंहदी हसन ने बताया कि इस मौके पर जल निगम के एक्जीक्यूटिव इन्जीनियर एवं जूनियर इन्जीनियर से फोन पर वार्ता होने एवं जल समस्या को तुरन्त दूर किये जाने के आश्वासन के बाद घेराव समाप्त किया गया।
श्री मेंहदी ने बताया कि लगभग एक माह से पुराने लखनऊ के वार्ड कश्मीरी मोहल्ला के अन्तर्गत टापे वाली गली, फाजिल नगर, मुअज्जम नगर, बुनियाद बाग, पुराना चबूतरा, घण्टा बेग की गढ़इया, दरगाह रोड, खन्ना का तकिया आदि तमाम मुहल्लों में पेयजल की भीषण किल्लत बनी हुई है। बूंद-बूंद पानी के लिए लोग तरस रहे हैं। गर्मी में पेयजल की इस भीषण समस्या से लोग परेशान हैं किन्तु जल निगम के अधिकारी आंखे मूंदे बैठे हैं। बार-बार चेतावनी एवं मांग के बावजूद अभी तक समस्या दूर नहीं हुई है जिससे क्षेत्र के लोगों में आक्रोश व्याप्त है। जिसके चलते आज लोगों के सब्र का बांध टूट गया और श्री मेंहदी के नेतृत्व में पेयजल की समस्या से त्रस्त सैंकड़ों लोगों ने जल निगम अधिकारियों का घेराव कर जल समस्या को अविलम्ब दूर किये जाने की मांग की गयी। इसके बाद अभियन्ताओं द्वारा आश्वासन दिये जाने पर घेराव समाप्त किया गया। 
श्री मेंहदी ने चेतावनी दी है कि यदि शीघ्र ही जल समस्या को दूर नहीं किया गया तो सड़कों पर उतरकर कांग्रेसजन संघर्ष करने को बाध्य होंगे।
उधर त्रिवेणी नगर मे सीतापुर रोड के पूर्वी पटटी पर निवास कर रहे लोगों द्वारा बताया गया कि पेयजल की समस्या निरन्तर बनी हुई है एवं इस समस्या के लिये कोई अधिकारी, पार्षद या स्थानीय विधायक का ध्यान अकर्षित नही हो रहा है। पेयजल का संकट निरन्तर बना है एवं जितने भी स्थानीय विकास कार्य किये गये है वह मात्र सीतापुर रोड के पश्चिम स्थित कालोनी मे अभीतक हुए हैं। पूर्वी हिस्से को विकास से नजरन्दाज किया जाता रहा है।
प्रेसमैन टाईम्स के उप सम्पादक से बात हुई तो उन्होने भी पेयजल की समस्या बतायी किन्तु उन्होने एक और शिकायत बतायी कि स्थानीय कूड़ा घर न होने से प्रेसमैन हाऊस के दफ्तर के आसपास स्थानीय लोग कूड़ा डालते है जिससे उक्त स्थान पर न्यूज आफिस की शुरूवात करने अत्यन्त कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है।


सोनिया गाँधी रायबरेली में अपने दो दिवसीय दौरे में कई विकास कार्यो का शिलान्यास व लोकार्पण करेंगी


रायबरेली 17 अप्रैल 2018। जनपद रायबरेली सांसद श्रीमती सोनिया गांधी ने दो दिवसीय जनपद भ्रमण के दौरान आज इंडियन  मेडिकल  एसोसिएशन रायबरेली भवन का लोकार्पण किया एवं कल दिनांक 18 अप्रैल को लगभग 75 करोड़ रूपये से अधिक के लागत कीे विकास योजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण करेंगी। जिसमें सड़क, पेय जल, बिजली, बारात घर, व सार्वजनिक स्थलों पर कक्षों का निर्माण प्रमुख रूप से शामिल है। 
श्रीमती सोनिया गांधी के प्रतिनिधि श्री के.एल.शर्मा ने यह जानकारी देते हुए बताया रायबरेली के चहुंमुखी विकास के प्रति हमेशा चिन्तित व प्रयत्नशील श्रीमती सोनिया गांधी ने गांव के गरीब तक विकास की योजनाओ को पहुंचाने का काम हमेशा किया है चाहे वह दलित बस्तियों में सी.सी.रोड व इण्टरलाकिंग का निर्माण कार्य हो या फिर ग्रामीण क्षेत्रों में निरन्तर विद्युत आपूर्ति का कार्य हो।
श्रीमती सोनियां गांधी ने सभी कार्याें को बराबर का महत्व देकर योजनाएं तैयार कर उन्हे अमली जामा पहनाने का भी काम किया है। ग्रामीण क्षेत्रों मे आए दिन ट्रांसफार्मर जल जाने से विद्युत आपूर्ति हफ्तों बाधित रहती थी भ्रमण के दौरान लोेगों द्वारा इस समस्या को श्रीमती सोनियां गांधी के संज्ञान में लाये जाने पर  ब्लाक स्तर पर 15 मोबाइल ट्राली ट्रांसफार्मर उपलब्ध कराया गया जिससे आज पूरे जनपद में इस समस्या का स्थाई समाधान हो पाया है आज सभी ब्लाक मुख्यालयों पर ट्राली ट्रांसफार्मर हमेशा उपलब्ध रहते है। इसके अतिरिक्त जगह जगह नये ट्रांसफार्मर की स्थापना व क्षमता वृ़िद्व का कार्य भी कराया गया है।

ग्रामीण क्षेत्रों में स्वच्छता अभियान अथवा अन्य किसी मद से  स्थापित विद्यालयों मे शौचालय की व्यवस्था तो मौजूद रहती थी लेकिन पानी की उपलब्धता न होने के कारण शौचालयों का उपयोग नहीं हो पाता था। ऐसी स्थिति में खास कर बालिकाओं को भारी असुविधा का सामना करना पड़ता था। पायलेट प्रोजेक्ट के तहत स्कूल के शौचालयों में पानी की व्यवस्था सुनिश्चित कराने के साथ ही शुद्ध पेय जल उपलब्ध कराने के लिए 06 विद्यालयों का चयन किया गया जहां पर इस समस्या के हल के लिये श्रीमती सोनिया गांधी ने अपनी सांसद निधि से 02 सबमर्सिबल पम्प लगाकर एक साथ शौचालयों में पानी की सप्लाई और साथ ही साथ आर.ओ. भी उपलब्ध करा कर शुद्ध पीने के पानी की व्यवस्था कराई जा रही है।
विद्यालय प्रबन्धकों द्वारा अपेक्षित सहयोग मिलने पर यह सुविधा बडे पैमाने पर जिले भर के विद्यालयों में उपलब्ध कराई जाएगी।
जनपद रायबरेली के सभी प्रमुख मार्गाें को राष्ट्रीय राजमार्ग का दर्जा दिलवाने के बाद माननीया श्रीमती सोनियां गांधी जी ने अन्य जनपद मार्गों के चौडीकरण का कार्य भी बडे पैमाने पर किया है।
ग्रामीण मार्गाें को प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना से लाभान्वित करने का काम जोर शोर से चल रहा है वर्तमान सत्र में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना से लगभग 55 कि0मी0 लम्बाई की 05 सड़कों का निर्माण 33 करोड़ 97 लाख रू0 की लागत से पूरा कर लिया गया है। तथा 57.50 कि0मी0 लम्बाई 06 सड़कों का निर्माण कार्य 34 करोड़ 28 लाख रू0 की लागत से कराया जा रहा है।
ग्रामीण क्षेत्रों में खास कर दलित बस्तियों में सी.सी. रोड, इण्टरलाकिंग व नाली निर्माण का कार्य स्थानीय सांसद क्षेत्र विकास निधि से पूरे जनपद मे बिना किसी भेद भाव के कराया जा रहा है। शादी विवाह के दौरान ग्रामीण क्षेत्रों में समुचित व्यवस्था न होने के कारण लोगों को काफी कठिनाई का सामना करना पड़ता था जिसके लिए श्रीमती सोनियां गंाधी जी ने जगह-जगह बारात घर बनवाने का काम किया जिससे लोगों को काफी राहत मिल रही है।
ब्लाक स्तर पर पूरे जिले भर में लगभग 03 करोड़ रू0 की लागत से सी.सी.रोड़, इण्टरलाकिंग, बारात घर व नाली निर्माण के लगभग 35 कार्य या तो पूरे हो चुके हैं या फिर कराये जा रहे हैं।
श्री शर्मा ने बताया कि श्रीमती गांधी उपरोक्त कार्यक्रमों के अलावा कल ही डाकघर पासपोर्ट सेवा केन्द्र का उद्घाटन करेंगी एवं जिला विकास समन्वय एवं अनुश्रवण समिति की बैठक की अध्यक्षता करेंगी। 

‘बहुजन हिताय, बहुजन सुखाय’:डा. महेन्द्र नाथ पाण्डेय


लखनऊ 16 अप्रैल 2018, भारतीय जनता पार्टी ने आज बाराबंकी के राजकीय इण्टर कालेज के मैदान पर डा. भीमराव राम जी आम्बेडकर की जयंती के उपलक्ष्य में प्रतिभा सम्मान समारोह व समरसता भोज का आयोजन भारतीय जनता पार्टी के द्वारा किया गया। कार्यक्रम में प्रमुख वक्ता के रूप में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डा. महेन्द्र नाथ पाण्डेय  व अवध क्षेत्र के अध्यक्ष सुरेश तिवारी  मौजूद रहे।
प्रदेश अध्यक्ष ने डा. आम्बेडकर जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि बाबा साहब का जीवन समाज के लिए अनुकरणीय है और समस्त समाज को जोड़ने वाला है। साथ ही यह बताया कि बाबा साहब ने छुआछूत को समाज से समाप्त करने का निरन्तर प्रयास किया। संविधान निर्माण जो दुनिया का सबसे बड़ा लिखित संविधान है उसमें प्रत्येक समाज के नवनिर्माण की बात कही है। उन्होंने विशाल जनसमूह को सम्बोधित करते हुए कहा कि भाजपा बाबा साहब के सपनों को पूरा करने के लिए पूरी तरह से संकल्प बध है। 
उन्होंने उद्बोधन में कहा कि मैं यह मानता हूं कि आज जो नीति निर्धारक हैं, जो थिंक टैंक चलाते हैं, उन्हें ग्लोबल इकोनॉमी के संदर्भ में बाबा साहब भीमराव रामजी आम्बेडकर के आर्थिक चिंतन को ध्यान में रखना चाहिए। भारत जैसे देश में बाबा साहब के उस आर्थिक चिंतन का बड़ा सीधा सा मंत्र था और वह था बहुजन हिताय, बहुजन सुखाय। मैं समझता हूं कि आर्थिक दृष्टि से किसी भी सरकार के लिए इस मंत्र के मूल तत्व के दायरे से बाहर जाने का कोई कारण ही नहीं बनता है। सामाजिक विषमता, स्त्री व पुरुष के प्रति भेदभाव, अपमान, शोषण की अवस्था वाले दिनों में भी इस महापुरुष को यही विचार आता था कि विकास यात्रा में कंधे से कंधा मिलाकर ईक्वल पार्टनरशिप अर्थात समान साझेदारी होनी चाहिए।’ 
विडम्बना यह है कि बाबा साहब के समान साझेदारी के विचार पर आगे बढने के लखनऊ 16 अप्रैल 2018, भारतीय जनता पार्टी ने आज बाराबंकी के राजकीय इण्टर कालेज के मैदान पर डा. भीमराव राम जी आम्बेडकर की जयंती के उपलक्ष्य में प्रतिभा सम्मान समारोह व समरसता भोज का आयोजन भारतीय जनता पार्टी के द्वारा किया गया। कार्यक्रम में प्रमुख वक्ता के रूप में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डा. महेन्द्र नाथ पाण्डेय जी व अवध क्षेत्र के अध्यक्ष सुरेश तिवारी जी मौजूद रहे।

प्रदेश अध्यक्ष ने डा. आम्बेडकर जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि बाबा साहब का जीवन समाज के लिए अनुकरणीय है और समस्त समाज को जोड़ने वाला है। साथ ही यह बताया कि बाबा साहब ने छुआछूत को समाज से समाप्त करने का निरन्तर प्रयास किया। संविधान निर्माण जो दुनिया का सबसे बड़ा लिखित संविधान है उसमें प्रत्येक समाज के नवनिर्माण की बात कही है। उन्होंने विशाल जनसमूह को सम्बोधित करते हुए कहा कि भाजपा बाबा साहब के सपनों को पूरा करने के लिए पूरी तरह से संकल्प बध है। 
उन्होंने उद्बोधन में कहा कि मैं यह मानता हूं कि आज जो नीति निर्धारक हैं, जो थिंक टैंक चलाते हैं, उन्हें ग्लोबल इकोनॉमी के संदर्भ में बाबा साहब भीमराव रामजी आम्बेडकर के आर्थिक चिंतन को ध्यान में रखना चाहिए। भारत जैसे देश में बाबा साहब के उस आर्थिक चिंतन का बड़ा सीधा सा मंत्र था और वह था बहुजन हिताय, बहुजन सुखाय। मैं समझता हूं कि आर्थिक दृष्टि से किसी भी सरकार के लिए इस मंत्र के मूल तत्व के दायरे से बाहर जाने का कोई कारण ही नहीं बनता है। सामाजिक विषमता, स्त्री व पुरुष के प्रति भेदभाव, अपमान, शोषण की अवस्था वाले दिनों में भी इस महापुरुष को यही विचार आता था कि विकास यात्रा में कंधे से कंधा मिलाकर ईक्वल पार्टनरशिप अर्थात समान साझेदारी होनी चाहिए।’ 
विडम्बना यह है कि बाबा साहब के समान साझेदारी के विचार पर आगे बढने के बजाय विपक्ष पश्चिम विभेदकारी व विध्वंसकारी राजनीति कर रहा है। ये वे दल हैं जिनका दलित कल्याण को लेकर स्वयं का रिकार्ड दागदार रहा है। कांग्रेस की यूपीए सरकार के दोनों कार्यकाल में दलितों पर अत्याचार के मामले बेतहाशा बढ़े थे। ऐसी कांग्रेस की यूपीए सरकार दस सालों तक मायावती की बसपा, अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी, वामदलों व अन्य विपक्षी दलों के समर्थन से चली। आज फिर सत्ता पाने के लिए विपक्ष्ी के सारे दल मिलकर षडयंत्र कर रहे हैं, जो कभी कांग्रेस ने बाबा साहब को संसद से बाहर रखने के इरादे से उनको चुनाव हरवाने के लिए किया था। क्योंकि कांग्रेस डरती थी कि बाबा साहब दलितों व वंचितों के पक्ष में संसद में विषय उठाएंगे तो उसकी पोल खुलेगी।
बाराबंकी की सांसद तथा कार्यक्रम की संयोजक प्रियंका सिंह रावत ने अपने संबोधन में कहा कि सही मायने में बाबा साहब के सपनों को साकार करने का काम भारत के लोकप्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी कर रहे है और मोदी सरकार की साढ़े चार साल की उपलब्धियों को अगर देखा जाये तो सबसे बड़ी उपलब्धि गरीब, शोषित, पिछड़े और दलित समाज के लोगों को उद्यमी बनाकर रोजगार देने वाला बनाने का उनका निर्णय तथा उसका क्रियान्वयन ऐतिहासिक है। 
इस अवसर पर जिला अध्यक्ष अवधेश श्रीवास्तव, सांसद प्रियंका सिंह रावत, विधायक गण-शरद अवस्थी, सतीश शर्मा, उपेन्द्र रावत, साकेन्द्र वर्मा व बैजनाथ रावत, जिला महामंत्री हर्षित वर्मा, जिला उपाध्यक्ष रचना श्रीवास्तव, केशव टण्डन, क्षेत्रीय मंत्री अजीत सिंह, हरगोविन्द सिंह, सुधीर सिंह सिद्धू व जिला मंत्री संदीप गुप्ता सहित हजारों की संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।

समता मूलक समाज के निर्माण का काम नरेन्द्र मोदी जी कर रहे है: डाॅ. महेन्द्र नाथ पाण्डेय


सुचित बाजपेई; लखनऊ  
लखनऊ 14 अप्रैल 2018, भारतीय जनता पार्टी प्रदेश अध्यक्ष डाॅ. महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने भारत रत्न बाबा साहब अम्बेडकर जयन्ती पर पुष्पाजंलि अर्पित की। 
हजरतगंज चैराहे पर बाबा साहब की प्रतिमा पर पुष्पार्चन करते हुए डाॅ. महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने कहा कि बाबा साहब के दर्शन के मूल में समरसता समन्वय, सौहार्द के साथ बिना भेदभाव तथा पक्षपात के लोकतंत्रिक राष्ट्रवादी अवधारणा है, दलित, बंचित शोषित लोगों का आर्थिक और सामाजिक उन्नयन है।
डाॅ. पाण्डेय ने कहा कि माननीय नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में समता मूलक समाज के निर्माण के लिए काम हो रहा है। केन्द्र सरकार की सभी जन कल्याणकारी योजनाओं में में 85 फीसदी से अधिक दलित, बंचित, शोषित वर्ग के जीवन स्तर को उठाने का काम मोदी कर रहे है। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश की योगी सरकार जिसकी योजनाओं से दलित, वंचित, शोषित का हित सर्वोपरि हैं। कानून का राज स्थापित होने से सपाई गुण्डों से दलितो गरीबों का राहत मिली हैं। 
डाॅ. पाण्डेय ने कहा कि डाॅ. भीम राव राम जी आम्बेडकर का अनुसरण करके भाजपा सरकारें काम कर रही है। भाजपा सरकार ने ही आरक्षण के पक्ष में 81, 82 और 85वां संविधान संशोधन किया था, जो एससी, एसटटी की बैकलाग सीटों को भरे जाने, भर्ती के माप दण्ड में छूट और पदोन्नति में आरक्षण को लेकर थे। जबकि सपा ने बाबा साहब की भावना के विपरीत पदोन्नति में आरक्षण का विरोध किया और सांसद में बिल फाड़ दिया था।
अखिलेश यादव के कार्यकाल में दलित पदाधिकारियों की पदावनति की गई। सपा पहली बार भीमराव आम्बेडकर जयन्ती मना रही है। उन्हें बधाई, बस सपा इतना बता दे कि दलितों की जमीनों पर किये। 
डा. पाण्डेय ने कहा कि मोदी ने ही एससी एसटी अधिनियम 2015 में संशोधित कर उसे प्रभावी बनाने का काम किया। इसी प्रकार मुआवजा बढाने के साथ ही जिला स्तर पर विशेष अदालतों की स्थापना की जिसके लिए दो महिने में निर्णय देना अनिवार्य बनाया गया। 
डा. आम्बेडकर ने संवैधानिक तरीकों से दलित बंचित, शोषित वर्ग के उत्थान की वकालत की थी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी उसी सिद्धान्त से सबको साथ लेकर सबका विकास कर रहे है।  
इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर, प्रदेश महामंत्री विजय बहादुर पाठक, गोविन्द नारायण शुक्ला, प्रदेश मंत्री अनूप गुप्ता, क्षेत्रीय अध्यक्ष सुरेश तिवारी, प्रदेश मीडिया संपर्क प्रमुख मनीष दीक्षित, प्रदेश मीडिया सहप्रभारी हिमांशु दुबे, लखनऊ महानगर अध्यक्ष मुकेश शर्मा उपस्थित रहे।   

कांग्रेसजनों का लखनऊ मे ‘कैंडिल मार्च’;सरकार महिला की सुरक्षा मे विफल: कांग्रेस



सुचित बाजपेई; लखनऊ 
उन्नाव(उ0प्र0) में महिला के साथ हुए बलात्कार एवं पुलिस कस्टडी में पीडि़ता के पिता की हत्या, कठुआ (जम्मू-कश्मीर) में नाबालिग बालिका के साथ बलात्कार एवं हत्या के साथ ही पूरे देश, प्रदेश में महिलाओं पर बढ़ते अत्याचार, उत्पीड़न के विरोध में उ0प्र0 कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री राजबब्बर जी सांसद के निर्देश पर आज वीवीआईपी गेस्ट हाउस के सामने से गांधी प्रतिमा(जीपीओ पार्क) हजरतगंज लखनऊ तक कांग्रेसजनों द्वारा कैंडिल मार्चनिकाला गया एवं शोक संवेदना व्यक्त करते हुए दो मिनट मौन रहकर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गयी। इसके साथ ही दोषियों पर कड़ी कार्यवाही करने हेतु उ0प्र0 सरकार एवं जम्मू-कश्मीर की सरकार को सद्बुद्धि प्रदान करने हेतु ईश्वर से प्रार्थना की गयी। 
प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता कृष्णकान्त पाण्डेय ने बताया कि कांग्रेस अध्यक्ष श्री राहुल गांधी जी के आवाहन पर पूरे देश में आज कैंडिल मार्च निकाला गया जिसके क्रम में प्रदेश मुख्यालय लखनऊ सहित उ0प्र0 के सभी जनपदों में कैंडिल मार्च निकालकर पीडि़त परिवारों के प्रति शोक संवेदना व्यक्त की गयीं।  
देश और प्रदेश की भाजपा सरकार महिलाओं की सुरक्षा करने में पूरी तरह विफल साबित हो रही है। बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा देने वाली भारतीय जनता पार्टी से आम जनता अब पूछ रही है कि बेटियां बचेंगीं तभी तो पढ़ेंगी। लोग अपनी बेटियां छिपाने में लग गये हैं। महिला सुरक्षा और सुशासन का ढोंग रचने वाली भाजपा सरकार को मा0 उच्च न्यायालय को कार्यवाही करने के लिए निर्देशित करना पड़ रहा है यह किसी भी चुनी हुई लोकतांत्रिक सरकार के लिए बेहद शर्मनाक स्थिति है।
प्रदेश में कांग्रेस के प्रदर्शन एवं कांग्रेस अध्यक्ष श्री राहुल गांधी जी के कैंडिल मार्च से प्रदेश सरकार दबाव में कार्यवाही के लिए बाध्य हुई है। हमेशा से जनहित सरोकार के मुद्दे पर कांग्रेस अग्रिम भूमिका में रही है आगे भी रहेगी। 

 क्या है  मामला 

देश में उन्नाव रेप केस के अलावा जम्मू-कश्मीर के कठुआ में एक आठ साल की बच्ची से गैंगरेप और उसकी बेरहमी से हत्या का मामला भी सुर्खियों में बना हुआ है. कठुआ के इस मामले में पुलिस की चार्जशीट के हवाले से जो रिपोर्टें आ रही हैं उनमें बच्ची से बरती गई क्रूरता का पता चलता है. मीडिया  दस अनुसार के मुताबिक चार्जशीट में बताया गया है कि बच्ची को एक मंदिर में कैद करके रखा गया था. इस दौरान उसे शांत रखने के लिए कई बार नशीली दवाएं दी गईं और फिर उसका बार-बार रेप किया गया.
आसिफा नाम की यह बच्ची बकरवाल समुदाय से थी. यह एक खानाबदोश मुस्लिम समुदाय है. इस साल 10 जनवरी को जम्मू के कठुआ जिले से आसिफा का अपहरण किया गया था. उस समय वो घर के नजदीक घोड़ों को चरा रही थी. जम्मू-कश्मीर पुलिस और क्राइम ब्रांच की तरफ से दायर चार्जशीट के मुताबिक राजस्व विभाग के एक रिटायर्ड अधिकारी संजी राम ने इस अपराध की योजना बनाई थी. रिपोर्ट के मुताबिक बकरवाल समुदाय को डराने के लिए संजी राम ने यह योजना बनाई थी ताकि वे रासाना गांव छोड़कर चले जाएं. इस काम में उसने अपने भतीजे, जो स्कूल ड्रॉप आउट है, को भी शामिल किया था.

इस मामले में अभी तक आठ लोगों को आरोपित बनाया गया है. इनमें संजी राम, उसका भतीजा, बेटा विशाल जंगोत्रा, भतीजे का एक दोस्त, एक पुलिस सब-इंस्पेक्टर, एक हेड कॉन्स्टेबल और दो विशेष पुलिस अधिकारी शामिल हैं. आरोपित भतीजे को पहले नाबालिग बताया गया था, हालांकि डीएनए टेस्ट में उसकी उम्र 19 साल पता चली है. चार्जशीट में उस पर आरोप है कि उसी ने संजी राम के बेटे विशाल जंगोत्रा को फोन करके पूछा था कि अगर वह अपनी हवस पूरी करना चाहता है तो कठुआ आ जाए. विशाल उस समय मेरठ में था. वहीं, पुलिस वालों पर आरोप है कि उन्होंने इस अपराध के सबूत मिटाने की कोशिश की और पूरे मामले को दबाने के बदले आरोपितों से रिश्वत ली.
चार्जशीट के मुताबिक जिस मंदिर में बच्ची को छुपाया गया उसका नाम देवस्थान है. संजी राम इस मंदिर का संचालक है. मंदिर में लाने के बाद बच्ची को लगातार नशीली दवाएं दी गईं और गैंगरेप किया गया. चार्जशीट में बताया गया है कि आरोपित भतीजे द्वारा गला दबाकर बच्ची को मारने से पहले उसे 14 जनवरी को मंदिर में रखा गया था. ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि एक और आरोपित ने कहा था कि वह भी बच्ची से रेप करना चाहता है. 17 जनवरी को आसिफा का शव देवस्थान से काफी दूर जंगल में मिला था.
चार्जशीट में एक बात साफ तौर पर कही गई है कि जांच में आगे जो भी नतीजा निकले, यह तय है कि यह अपराध इन्हीं आठ लोगों ने किया है. इसमें यह भी बताया गया है कि फॉरेन्सिक विशेषज्ञों और प्रथम श्रेणी मजिस्ट्रेट के साथ मिलकर जांचकर्ताओं ने घटनास्थल का दौरा किया था. उन्होंने देवस्थान समेत घटना से जुड़ी जगहों का निरीक्षण किया था. इस दौरान उन्हें लकड़ी के डंडों पर खून के निशान और बाल मिले थे. कुछ बाल देवस्थान और उस जंगल से बरामद हुए जहां बच्ची का शव फेंक दिया गया था. बाद में उन्हें डीएनए टेस्ट के लिए नई दिल्ली भेज दिया गया. उनमें से एक नमूना आसिफा के डीएनए से मेल खाता है.
.

भाकियू(राष्ट्रवादी) प्रदेश कार्य समिति का धरना लखनऊ मे; मुख्यमंत्री को ज्ञापन

सुचित बाजपेई ;लखनऊ 
भारतीय किसान यूनियन (राष्ट्रवादी) की प्रदेश कार्य समिति का धरना लखनऊ जी0पी0ओ0 पार्क मे आज बुधवार दोपहर मे सम्पन्न हुआ। इस यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सी0पी0सिंह यादव, प्रदेश अध्यक्ष ठा0 रामचन्द्र सिंह ने उत्तर प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री को सम्बोधित मांगपत्र भेजा है।
धरने के दौरान राष्ट्रीय अध्यक्ष ने उपस्थिति किसानो को सम्बोधित करते हुए मांग की एवं कहा कि प्रदेश के समस्त किसानो के सभी कृषि ऋण माफ करे प्रदेश सरकार तथा किसानो को ब्याज मुक्त ऋण की व्यवस्था सुनिश्चित करे।
उन्होने काहा कि किसानों की फसल की लागत मूल्य मे 50 प्रतिशत लाभांश जोड़कर फसल के भाव तय होंय सरकार द्वारा तय किये गये समर्थन मूल्य से कम मूल्यपर किसानां की उपज खरीदने वालो के विरूद्ध संज्ञेय अपराध मे रिपोर्ट दर्ज कराने व कठोर कार्यवाही की नीति निर्धारित करे सरकार।
श्री यादव ने आगे कहा कि हरियाणा व पंजाब की तर्जपर किसानों के निजी नलकूप जो कि 5 से 7.5 हार्सपावर तक के कनेक्शन पर होने वाला लाईन खर्च तथा उनके विधुत बिलों को माफ किया जाय य 60 वर्ष आयु पूर्ण कर चुके किसानों व किसान मजदूरों को 10000/- रूपये मासिक पेंशन व जीवन निर्वाह भत्ता दिया जाय।
प्रदेश अध्यक्ष ठा0 रामचन्द्र सिंह ने इस सभा का सम्बोधित किया एवं कहा कि प्रत्येक न्यायपंचायत स्तर पर एक गौशाला का निर्माण कराये जाने कि व्यवास्था कराये सरकार तथा घुमन्तु गयों और बछड़ों को उनमे रखा जाय
उन्होने कहा कि गोमती नगर के किसानों की भूमि का अधिग्रहण कर चुकी एल0डी0ए0 से सरकार किसानों को मुआवजा दिलाये।
उन्होने सरकार से मांग किया कि एथेनॉल को क्रूड ऑयल/डीजल मे 20 प्रतिशतं मिश्रित किया जाय तथा चीनी मिलों से एथेनॉल को खरीदा जाय। नहरों, माईनरों की शिल्ट की साफ सफाई इीक प्रकार से कराकर पानी टेल तक पंहुचाया जाय। खराब पडे़ नलकूपों को ठीक कराकर सिचाईं हेतु किसानां को पानी उपलब्ध कराया जाय गरीब किसानो के खेतों मे 200 फुट गहरी बड़ी बोरिंग निःशुल्क कराया जाय। बन्द पड़ी सहकारी समितियों को चालू कराकर किसानों को खाद, बीज, दवाईयां ग्राम स्तर पर उपलब्ध करायी जाय।किसान बही बनवाकर सभी किसानो को उपलब्ध करायी जाय। किसान आयोग का गठन किया जाय।


बालू खनन को रोकने एवं पट्टा निरस्त करने के लिए धरना प्रदर्शन पर कांग्रेस विधायक 19 लेागों सहित जेल में

उ0प्र0 कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर देवरिया जेल में निरूद्ध सभी आन्दोलनकारियों से मुलाकात की

पी एन राम ; देवरिया 
कांग्रेस विधानमण्डल दल के नेता श्री अजय कुमार लल्लू द्वारा जनहित में विधानसभा तमकुहीराज के अन्तर्गत आने वाले बिरवट कोनवलिया बांध को बंचाने हेतु बालू खनन को रोकने एवं पट्टा निरस्त करने के लिए पिछले दो माह से चलाये जा रहे धरना प्रदर्शन को प्रदेश के शासन के इशारे पर प्रशासन द्वारा अलोकतांत्रिक तरीके से लाठी डण्डे के दम पर जबरिया धरने को समाप्त कराते हुए श्री अजय कुमार लल्लू सहित 19 लेागों को गिरफ्तार कर देवरिया जेल में निरूद्ध किया गया है तथा सरकार के इशारे पर प्रशासन की मिलीभगत से खनन माफिया द्वारा फर्जी तरीके से विभिन्न गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया गया है।
               यह भी  जानकारी मिली है की विधायक ने मामले को विधानसभा पटल पर इसी वर्ष फ़रवरी में बजट सत्र 2018-19   के दौरान उठाया था। 
प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता अशोक सिंह ने बताया कि उ0प्र0 कांग्रेस अध्यक्ष श्री राजबब्बर सांसद ने आज देवरिया जिला जेल पहुंचकर कांग्रेस विधानमण्डल दल के नेता श्री अजय कुमार लल्लू एवं उनके साथ जेल में बन्द सभी आन्दोलनकारियों से मुलाकात की। 
            इसके उपरान्त बांध को बचाने हेतु चलाये जा रहे धरने पर पहुंचकर धरने को सम्बोधित करते हुए कहा कि जो बालू खनन का पट्टा दिया गया है पूरी तरह गलत है और इसमें घोटाला किया गया है। प्रदेश में गुण्डाराज स्थापित है। 
              जनप्रतिनिधियों को जिस प्रकार सरकार डराने और धमकाने का काम कर रही है जनहित के मुद्दों को उठाने पर जिस प्रकार विरोधी दल के नेताओं को सत्ता के बल पर सरकार दबाने और प्रताडि़त करने का काम कर रही है इसके खिलाफ कांग्रेस पार्टी संघर्ष करती रहेगी। 
               सरकार को खुलासा करना चाहिए कि किसके दबाव में यह पट्टा आवंटित किया गया जबकि सिंचाई विभाग द्वारा ऐतराज जताने के बाद भी हजारों परिवारों  की जान को दांव पर लगा दिया गया।
उल्लेखनीय है कि जनपद कुशीनगर की तमकुहीराज विधानसभा के अन्तर्गत आने वाले बिरवट कोनवलिया बांध के क्षतिग्रस्त होने से लगभग 40 हजार की आबादी प्रभावित होगी और जानमाल की हानि का खतरा है। लेकिन शासन के इशारे पर प्रशासन द्वारा वहीं पर बालू खनन का पट्टा कर दिया गया है जिससे कि बांध के कभी भी टूट जाने का खतरा बन गया है इसके लिए सिंचाई विभाग ने भी ऐतराज जताया है और हजारों परिवारों के जीवन पर संकट मंडराने लगा है।
राजबब्बर  के साथ एमएलसी  दीपक सिंह, पूर्व मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी, सुश्री अनुसुइया शर्मा, जीशान हैदर,  गंगा सिंह एडवोकेट, संतोष श्रीवास्तव, अमरीश पाण्डेय,  ओ0पी0 सिंह एवं कुशीनगर के जिला एवं शहर अध्यक्ष शामिल रहे।  
 

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव: भाजपा राज का आचरण जन-विरोधी है

सुचित बाजपेई; लखनऊ  
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने कहा कि विगत एक वर्ष में राज्य में अराजकता व्याप्त है। भाजपा राज का आचरण जन-विरोधी है। किसान-बेरोजगार आत्महत्या करने को मजबूर हैं। बच्चियों से बलात्कार और महिलाओं का उत्पीड़न थमने का नाम नहीं ले रही है। 
      श्री अखिलेश यादव आज यहां राज्य भर से आये समाजवादी पार्टी के प्रमुख नेताओं की बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा है कि भाजपा नेताओं के अलोकतांत्रिक आचरण के कारण ही कानून-व्यवस्था चौपट  है। भाजपा नेता स्वयं कानून हाथ में ले रहे है। भाजपाई और अपराधियों की सांठगांठ का ही परिणाम है कि राज्य में भय और आतंक का वातावरण बन गया है। 
       श्री अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी के नेताओं की यह जिम्मेदारी है कि जहां भी अन्याय की घटनाएं घटित होती है वहां तत्काल पहुंच कर पीड़ितों की हर सम्भव मदद करने के लिए सक्रिय रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा राज में अन्याय और अत्याचार की कोई सीमा नहीं है। भाजपाई समाजवादी पार्टी और बसपा के गठबंधन से पूरी तरह बौखलायें हुए है।
       श्री यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा के गठबंधन से भाजपा की भाषा बदलती जा रही है। सबसे बड़ी पार्टी होने का दावा करने वाली भाजपा शिष्टाचार से शून्य है। साथ ही राजनैतिक मर्यादा का अभाव है। भाजपा के लोगों के बयान असंसदीय और लोकतंत्र विरोधी है। भाजपा नेता विपक्षी नेताओं के विरूद्ध जिस भाषा का प्रयोग करते है वह न तो शिष्ट है और न लोकतंत्र में उसके लिए कोई स्थान हो सकता है। 
        श्री यादव ने कहा कि नोटबंदी से देश की अर्थव्यवस्था कमजोर हुयी है। जनता का जो रूपया नोटबंदी के दौरान बैंको में जमा हुआ था, वही रूपया लेकर कई लोग विदेश भाग गये। नोटबंदी से भ्रष्टाचार बढ़ा है। केन्द्र सरकार इसका जवाब नहीं दे पा रही है। देश का युवा नौकरी और रोजगार की समस्या का समाधान चाहता हैं। भाजपा की केन्द्र सरकार के कार्यकाल में बेरोजगारी तीव्रता से बढ़ी हुई है। भाजपा की युवा विरोधी नीतियों की वजह से नौजवान सड़कों पर उतरने को मजबूर हो गये है। उत्तर प्रदेश में 500 शिक्षामित्र अब तक आत्महत्या कर चुके हैं। 
        श्री अखिलेश यादव ने कहा कि देश को तरक्की और समृद्धि के रास्ते पर ले जाने का काम समाजवादी ही कर सकते है। बिना इन्फ्रास्टक्चर पर काम किये रोजगार नहीं मिल सकता। इसीलिए समाजवादी पार्टी सरकार में एक्सप्रेस-वे सड़क शिक्षा, चिकित्सा, सिंचाई, कृषि मण्ड़ियों की व्यवस्था आदि की स्थायी समाधान सहित अवस्थापना से जुड़े अनेक विकास कार्य हुए थे, जिससे जनता में खुशहाली लाई जा सके।
       शिक्षा  और स्वास्थ्य की दिशा में समाजवादी सरकार में महत्वपूर्ण काम हुए थे। आधी आबादी की सुरक्षा और सम्मान देने की दिशा में समाजवादियों ने महत्वपूर्ण कार्य किया हैं। उन्होंने कहा कि हम समाजवादी समाज से नफरत खत्म करना चाहते हैं इसके लिये आबादी के हिसाब से सबको सम्मान और अधिकार मिलना चाहिए। केन्द्र सरकार को जातिगत जनगणना जारी करके सबको आधार से जोड़ना चाहिए। जिससे सबको आबादी के हिसाब से प्रतिनिधित्व मिल सके।

राजबब्बर: चुनावी चिन्ता नहीं है चिन्ता समाज के तानेबाने को छिन्न-भिन्न और बंटवारे को रोकना है

 सुचित बाजपेई ; लखनऊ 
उ0प्र0 कंाग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री राजबब्बर जी सांसद ने देश में सामाजिक सौहार्द बिगड़ने से बढ़ती अराजकता की स्थिति के विरोध में प्रदेश कंाग्रेस मुख्यालय में आयोजित उपवास कार्यक्रम के दौरान उपस्थित कांग्रेस  कार्यकर्ता को  संबोधित  करते  हुए  कहे । 
उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष श्री राहुल गांधी जी के निर्देश पर आज पूरे देश में कांग्रेसजनों द्वारा उपवास किया गया है। देश के अन्दर जो असुरक्षा की भावना उत्पन्न हुई है। किसी एक वर्ग या समुदाय का,े जिसके पास ताकत है सत्ता है भय के माहौल में जीने के लिए मजबूर कर रहा है। जो पीढ़ी भय मंे जी रहा था गांधी जी ने देश को एकजुट करके सभी वर्ग और सभी समुदाय के लोगों को वसुधैव कुटुम्बकम की भावना से एकजुट किया और अहिंसा के बल पर देश को आजाद कराया। इस ताकत का एहसास हम सभी को होना चाहिए।
उन्होंने कहा कि आज कोई किसी की नहीं सुन रहा। एक बच्ची का उदाहरण सामने आया है वह अपना दुखड़ा कहने जो सत्ता के महत्वपूर्ण पदों पर हैं उनसे कहने आयी थी उसे भगा दिया गया। उसने अपने ऊपर तेल छिड़कर आत्महत्या की कोशिश की लेकिन उसकी कोई सुनवाई नहीं हुई उसके पिता की पुलिस प्रताड़ना से जेल में मृत्यु हो गयी।
आज समाज के अन्दर बड़ी चुनौती है जिसे हम गांधी जी के सत्य और अहिंसा के बताये रास्ते पर चलकर मुकाबला कर सकते हैं। हमारे संविधान में सभी को समानता का अधिकार है। सबको जीने का अधिकार है।
गांधी जी ने कहा था कि एकजुट होकर चलेंगे तो देश मजबूत होगा इसी परिपाटी पर कांग्रेस चल रही है और कांग्रेस अध्यक्ष श्री राहुल गांधी जी के साथ हम सभी चल रहे हैं। 
श्री बब्बर ने कहा कि उपवास कार्यक्रम श्री राहुल गांधी जी सोच है। जिसमें राजनीतिक और चुनावी चिन्ता नहीं है चिन्ता समाज के तानेबाने को छिन्न-भिन्न और बंटवारे को रोकना है। 
उन्होने कहा कि भाजपा महापुरूषों के नाम और कपड़ा बदलने का काम कर रही है वह तो अब कृष्ण जी का भी नाम तय करेगी।
हम महापुरूषों को किस तरह जानते हैं और पीढि़यां किस तरह लेकर चल रही है भाजपा का संगठन आज पूरे देश की सभ्यता को तोड़मरोड़ रही है। यह केवल तानाशाहों की सभ्यता है। लेकिन इस देश में कोई तानाशाही नहीं चलेगी।
उन्होंने आगे कहा कि  किसान, नौजवान, कर्मचारी सभी परेशान हैं। आंकड़ों के हेरफेर से और विरोधियों को भयभीत करके पैसे और ताकत सेे सरकार तो बना सकते हैं, लेकिन जिस प्रकार 2014 के बाद भाजपा एक भी लोकसभा सीट उपचुनाव में नहीं जीती और भाजपा के विरूद्ध बहुतायत वोट पड़ रहा है -- 2019 में भी यही होगा!
आज समाज के सभी वर्गों, धर्मों, राजनीतिक, सामाजिक सबको एकजुट होना पड़ेगा। हम किसी भी ऐसी विघटनकारी, बंटवारा करने वाली ताकतों को बढ़ावा नहीं दे सकते जो देश के लिए हानिकारक है।
प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता वीरेन्द्र मदान ने बताया कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस अध्यक्ष श्री राहुल गांधी जी के निर्देशानुसार कांग्रेस पार्टी द्वारा देश भर में जिला/शहर एवं प्रदेश मुख्यालयों पर आज एक दिवसीय ‘उपवास’ कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसके तहत राजधानी लखनऊ में प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पर एवं प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों पर जिला/शहर कांग्रेस कमटियों द्वारा ‘उपवास’ कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। 
उपवास कार्यक्रम में प्रमुख रूप से वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सांसद श्री प्रमोद तिवारी, एमएलसी श्री दीपक सिंह, विधायक श्रीमती अराधना मिश्रा मोना, पूर्व मंत्री श्री रामकृष्ण द्विवेदी, पूर्व मंत्री श्रीमती अमिता सिंह, पूर्व मंत्री श्री सतीश शर्मा, पूर्व मंत्री श्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी, पूर्व विधायक सर्वश्री विनोद चतुर्वेदी, सतीश अजमानी, श्यामकिशोर शुक्ल एवं श्री अखिलेश प्रताप सिंह, डा0 आर0पी0 त्रिपाठी, सुश्री अनुसुइया शर्मा, श्री मदनमोहन शुक्ल, श्री अमीर हैदर, श्री हनुमान त्रिपाठी, श्री प्रमोद सिंह, श्री द्विजेन्द्र त्रिपाठी, श्री ओंकारनाथ सिंह, श्री सिद्धार्थ प्रिय श्रीवास्तव, श्री अरूण प्रकाश सिंह, श्री मारूफ खान, श्री अमरनाथ अग्रवाल, श्री के0के0 पाण्डेय, श्री जीशान हैदर, श्री संजय बाजपेयी, श्री सुरेन्द्र राजपूत, श्री अशोक सिंह, श्री रमेश श्रीवास्तव, श्री शिव पाण्डेय, श्री एस0के0 दरबारी, श्री आर0पी0 सिंह, श्री अभिमन्यु सिंह, डा0 लालती देवी, श्री अमित त्यागी, श्री गंगा सिंह एडवोकेट, पार्षद श्री गिरीश मिश्रा, श्री बोधलाल शुक्ला, श्री गौरव चौधरी, श्रीमती ममता चौधरी, श्रीमती नूतन बाजपेयी, श्रीमती आरती बाजपेयी, डा0 उमाशंकर पाण्डेय, श्री इरशाद अली, श्री सम्पूर्णानन्द मिश्र, श्री नदीम अशरफ जायसी, श्री नरेश बाल्मीकि, श्री अरशी रजा, श्री मेंहदी हसन, श्री शकील फारूकी, श्री प्रद्युम्न कुमार दूबे, श्री शैलेन्द्र सिंह, श्री शैलेन्द्र तिवारी, श्री तौकीर आलम, श्री प्रदीप सिंह, श्री अंशू अवस्थी, श्री रंजन दीक्षित, चौ0 अखिलेश सिंह, श्रीमती सुशीला शमार्, श्रीमती सिद्धि, श्री अयाज खान अच्छू, पूर्व पार्षद श्री प्रदीप कनौजिया एवं श्री मुकेश सिंह चौहान, श्री शंकरलाल गौतम, श्रीमती सुनीता रावत, श्रीमती सुशीला सोनकर, श्रीमती लक्ष्मी वर्मा, श्रीमती रितू रावत, श्री राजेश सिंह काली, दिलप्रीत सिंह, प्रदीप सिंह राठौर, श्री गोपाल कृष्ण पाण्डेय, श्री अजय सिंह, श्री दीपेन्द्र मिश्रा, श्री विकास त्रिपाठी सहित सैंकड़ों की संख्या में कांग्रेसजन मौजूद रहे।